shayari hindi maza दिमाग के लिए संतरे का जूस |

Shayari Hindi Maza

Shayari Hindi Maza

Shayari Hindi Maza yah Kuchh shayari hai H Maja shayari in Hindi very nice very good Manoranjan ke liye shayari Hai yah Ek dusre ke Sath Manoranjan shayari Hindi Maza

Very sad shayari

दिमक के लिए संतरे का जूस |

आंखों के लिए गाजर का जूस |
सेहत के लिए अनार का जूस |
खुश करने के लिए एसएमएस कंजूस |

Dimag Ke Liye santre ka joos |
Aankhon Ke Liye Gajar ka joos |
Sehat ke liye Anar ka joos |
Khush karne ke liye SMS kanjoos |

वाह रे दीवाने तुझे सूझी है दूर की |
सूरत है लंगूर सी और ख्वाहिश है हूर की |

Vah Mere Diwane Tujhe Sujhi hai dur ki |
Surat Hai langoor Si aur Khwahish Hai hoot ki |

Shayri Hindi Maza sms

राम ने धनुष तोड़ा सीता आई |
अर्जुन ने तीर चलाया द्रोपति आई |
कृष्ण बंसी बजाई मीरा |
मैंने सिटी बजाए |
पता नहीं साली बाप को क्यों ले आई |

Ram ne Dhanush Toda Sita I |
Arjun net Teer chalaya dropati I |
Krishna Bansi Bajaye Mira I |
Main city Bajaye |
Pata nahin sali baap ko kyon Le I |

हर खुशी को तेरी तरफ मार दूं |
तेरे लिए चांद तारे तक छोड़ दूं |
खुशी के सब दरवाजे तेरे लिए खोल दूं |
इतना झूठ काफी है या 2,4 और बोल दूं |

Har Khushi Ko Teri Taraf Mod Dun |
Tere Liye Chand Tare tak Tod Dun |
Khushi Se Sab darwaje Tere Liye Khol Dun |
Itna Jhooth Kafi Hai Ya 2,4 aur bol do |

Advertisement

Shayari Hindi Maza

Shayri Hindi Maza sms

चांद पर काली घटा छाती तो होगी |
सितारों को मुस्कुराहट आती तो होगी |
तुम लाख छुपाओ दुनिया से |
मगर अकेले में तुम्हें अपनी शक्ल से |
हंसी आती तो होगी |

Chand par Kali Ghata Chhati  to Hogi |
Sitaron ko Muskurahat Aati To Hogi |
Tum lakh chhupao Duniya Se |
Magar Akele main Tumhen apni Shakal se |
Hansi Aati To Hogi |

Masti shayari in Hindi

रानू (राजू से) तुम्हारे पिताजी का नाम  कमाल है क्या |
राजू- नहीं तो  तुझे किसने कहा |
रानू -कल सर कह रहे थे कि राजू कमाल का लड़का है |

Ranu (Raju se) Tumhare Pitaji ka naam | Kamal hai kya |
Raju – Nahin Tu Tujhe Kisne Kaha |
Ranu – Pulsar kah rahe the ki Raju kamal ka ladka hai |

रश्मि – घर में चोर घुसा है और तुम हो कि कुंभकरण की नींद सो रहे हो |
तनवीर – जोर से कह दो कि घर में रुपए नहीं है इस बार की पूरी पगार इनकम टैक्स में चली गई |

Rashim – Ghar mein chor ghusa hai aur tum Ho ki Kumbhkaran so rahe ho |
Tanvir – chor se kah do ki Ghar mein | rupaye Nahin Hai is bar ki puri Pagar income tax Mein Chali gai |

Shayri Hindi Maza sms

रास्ते पर से जनाजा गुजर रहा था |
एक व्यक्ति ठिठक कर खड़ा हो गया |
फिर उसने जनाजे में शामिल एक व्यक्ति से पूछा- कौन मरा है |
वह जो सबसे आगे अर्थी पर लेटा हुआ है ना |
जवाब मिला – वह मेरा है |

Raste per se janaja Gujar raha tha |
Ek vyakti thithik kar khada ho gaya |
Fir usne janaje Mein Shamil Ek vyakti se poochha – Kaun Mara hai |
Vah jo Sabse Aage Aarti per Leta hua hai na jawab Mila – wah Mera hai |

Shayari Hindi Maza

Hindi shayari

डॉक्टर – आपने रात को हल्का खाना ही खाया था ना |
मरीज – हां पकोड़े खाए थे |
डॉक्टर – पकोड़े मगर तुमने यह कैसे समझ लिया कि पकौड़े हल्का खाना होता है |
मरीज – कढ़ाई में भारी चीज तेल नीचे था और पकौड़ी ऊपर तैर रहे थे |

Doctor – aapane raat ko Halka khana hi khaya tha na |
marriage – han pakaude khae the |
Doctor – pakode Magar Tumne yah Kaise samajh liya ki pakaude Halka khana Hota Hai | 
marriage – kadhaai Mein Bhari chij Tel Nache tha aur pakode Upar tair rahe 

Meridosti.in

राहगीर – भाई यह सड़क कहां जाती है |
आदमी – या सड़क तो कही नहीं जाती रोज यही मिलती है |

Rahgeer – bhai yah Sadak Kahan Jaati Hai |
Aadami – yah Sadak to Kahin Nahin jaati Roj yahin milati Ho |

Shayri Hindi Maza old

राम – जवानी और बुढ़ापे में क्या फर्क है |
श्याम – अरे यार जवानी में जेब की डायरी में लड़कियों के नाम पते लिखे होते हैं |
राम – और बुढ़ापे में |
श्याम – बुढ़ापे में जेब की डायरी में डॉक्टरों के नाम पते लिखे होते हैं |

Ram – javani aur budhapa Main Kya Fark Hai |
Shyam – are yaar javani Mein Jeb ki diary mein ladkiyon ke naam Pate likhe Hote Hain |
Ram – Aur budhape mein |
Shyam – budhape me Jeb ki diary mein doctor ke naam pate likhe Hote Hain

जज अपराधी से – अगर तुम झूठ बोलोगे तो कहां जाओगे |
अपराधी – जी नर्क में |
जज – अगर सच बोलोगे तो |
अपराधी – जी जेल में |

Jadge – apraadhi se agar tum Jhooth bologe to Kahan jaaoge |
Apraadhi – Ji narak mein |
Jadge -Agar Sach bologe to |
Apradhi – ji jail mein |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *