shayari for love


shayari for love

Love shayari Hindi

इस कदर चाहा है तुझे हमने|
तेरे सिवा और कुछ अब नजर आता नहीं|
तेरे ही जलवे रहते हैं आंखों में|
कुछ और  मेरी निगाहों को अब भाता नहीं|


shayari for love,
Is Kadar Chaha Hai Tujhe Humne|
Tere Siva aur kuchh ab Najar Aata Nahin|
Tere Hi Jalwe rahte hain Aankhon Mein|
Kuchh Aur meri Nigahon Ko ab bhata Nahin|


तेरे प्यार का सिला हर हाल में देंगे|
खुदा भी मांगे ये दिल तो टाल देंगे|
अगर दिल ने कहा तुम बेवफा हो|
इस दिल को भी सीने से निकाल देंगे|


Tere Pyar Ka Sila Har Hal Mein Denge|
Khuda Bhi Mange Ye Dil To Tal Denge|
Agar Dil Ne Kaha Tum Bewafa Ho|
Dil Ko Bhi Sine Se Nikal Denge|

shayari for love

Chaho to Chhod Do

तुम सा कोई दूसरा जमीन पर हुआ|
तो रब से शिकायत होगी|
एक तो झेला नहीं जाता|
दूसरा आ गया तो क्या हालत होगी|

shayari for love,
Tumsa Koi dusra Jameen per hua|
To Rab Se Shikayat Hogi|
Ek to Jhela Nahin Jata|
Dusra a Gaya to kya Halat Hogi|


एक अजनबी से मुझे इतना प्यार क्यों है|
इंकार करने पर चाहत कर इंकार क्यों है|
उसे पाना नहीं मेरी तकदीर में शायद|
फिर हर मोड़ पर उसी का इंतजार क्यों है|



Ek Ajnabi Se Mujhe Itna Pyaar Kyon Hai|
Kar karne par Chahat  Kar Inkar Kyon Hai|
Use Pana Nahin Meri takdeer Mein Shayad|
FIR Har Mod per Usi Ka Intezar Kyon Hai|

shayari for love

Love shayari SMS

कितनी जल्दी यह मुलाकात गुजर जाती है|
प्यास बुझती नहीं की बरसात गुजर जाती है|
आपकी यादों से कह दो कि यूं ना आया करें|
नींद आती नहीं और रात गुजर जाती है|

shayari for love,
Kitni jaldi Yeh Mulaqat Guzar Jati Hai|
Pyas Bujhti Nahin Ki Barsat Gujar Jaati Hai|
Aapki Yadon se kah do ki Yun Na Aaya Karen|
Neend Aati Nahin Aur Raat Guzar Jati Hai|


प्यार है इकरार कर नहीं पाता, बिना कहे भी तो रह नहीं पाता|
क्या करूं इस दीवाने दिल का बस इंकार कर नहीं पाता|
जब चाहा इकरार दिल ने कहा इंतजार, पर कैसे बताएं इस
दिल से कि हमको हो गया है प्यार|

Pyar hai iqrar kar Nahin pata, Bina Kahi bhi to Rah Nahin pata|
Kya Karun is Deewane Dil Ka bus Inkar kar Nahin pata|
Jab Chaha iqrar Dil Ne Kaha Intezaar,per Kaise bataen Is Dil Se Ki Humko Ho Gaya Hai Pyar|

shayari for love

shayari Lovely

कैसे कहे कि आप कितनी खूबसूरत हैं|
कैसे कहे कि हम आप पर मरते हैं|
यह तो सिर्फ मेरा दिल ही जानता है|
कि हम आप पर अपनी जवानी कुर्बान करते हैं|


shayari for love,
Kaise Kahe Ki aap Kitni Khubsurat Hain|
Kaise kahen ki Ham aap per Marte Hain|
Yah To Sirf Mera Dil Hi Jaanta hai|
Ki Ham aap per apni javani Kurban Karte Hain|


 आंखों में खुशी लबो पर हंसी गम का कोई नाम ना हो|
आपको जहान की सारी खुशियां मिले|
इन खुशियों की कभी कोई सामना|

Aankhon Mein Khushi Labon per Hansi Gam ka koi Naam Na Ho
Aapko Jahan ki sari Khushiyan mile
Khushiyon Ki Kabhi Koi Samana

shayari for love

Hindi shayari

खुदा से थोड़ा रहम खरीद लेते|
आप के जख्मों का मरहम खरीद लेते|
अगर कभी बिकती खुशियां मेरी|
तो सारी बेचकर आपका हर गम खरीद लेता|


Khuda Se thoda Raham khareed lete|
Aap ke jakhmon ka Marham khareed lete|
Agar kabhi bakti Khushiyan Meri|
to Sari bechkar aapka Har Gam khareed lete|


नन्हे से दिल में कोई अरमान रखना|
दुनिया की भीड़ में हमारी पहचान रखना|
अच्छे नहीं लगते हो जब रहते हो उदास|
इन होठों पर सदा मुस्कान रखना|


shayari for love,
Nanhe Se Dil Mein Koi Armaan Rakhna|
Duniya ki Bheed Mein Hamari pahchan Rakhna|
Acche Nahin Lagte Ho Jab rahte ho Udaas|
Ine Hothon per Sada Muskan Rakhna|


यह शायरी आप सबको कैसी लगी दोस्तों हमें कमेंट करके जरूर बताएं

Post a Comment

1 Comments